Monday, July 22, 2024
Latest:
राज्यसहकारिता

राजफैड ने किसानों से 667 करोड़ रुपये की मूंग और मूंगफली की समर्थन मूल्य पर खरीद की

जयपुर, 4 जनवरी (मुखपत्र)। राज्य में राजफैड द्वारा किसानों से समर्थन मूल्य पर दलहन-तिलहन की खरीद की जा रही है। अधिकाधिक किसानों को समर्थन मूल्य पर खरीद से लाभान्वित करने के लिए खरीद की पंजीयन की सीमा को 20 प्रतिशत बढ़ाया गया है। पंजीयन सीमा बढ़ाने से राज्य के 14 जिलों के 108 क्रय केन्द्रों से मूंग के 11,562 किसान और लाभान्वित होंगे। इन जिलों के किसान 6 जनवरी 2023 से पंजीयन करा सकेंगे।

 

श्रेया गुहा, IAS

सहकारिता विभाग की प्रमुख शासन सचिव एवं राजफैड की प्रशासक, श्रीमती श्रेया गुहा ने बताया कि समर्थन मूल्य पर चल रही खरीद के तहत 72,250 किसानों ने मूंग के लिए एवं 22,671 किसानों से मूंगफली के बेचान के लिए पंजीयन कराया है। इनमें से 45057 किसानों से 661 करोड़ रुपये मूल्य की 85231 मीट्रिक टन मूंग की और 6 करोड़ रुपये मूल्य की 1013 मीट्रिक टन मूंगफली की खरीद की जा चुकी है। अब तक 28,704 किसानों को 420 करोड़ रुपये का भुगतान किया जा चुका है। शेष किसानों को भुगतान की प्रक्रिया जारी है।

पंजीयन सीमा में 20 प्रतिशत की बढोतरी

उर्मिला राजोरिया, IAS

राजफैड की प्रबंध निदेशक श्रीमती उर्मिला राजोरिया ने बताया कि मूंग के 3.03 लाख मीट्रिक टन, उड़द के 62508 मीट्रिक टन, मूंगफली के 4.66 लाख मीट्रिक टन एवं सोयाबीन के 3.62 लाख मीट्रिक टन लक्ष्य स्वीकृत किये गये हैं।

उन्होंने बताया कि न्यूनतम समर्थन मूल्य पर दलहन एवं तिलहन खरीद योजना का लाभ अधिकाधिक किसानों को उपलब्ध कराने की दृष्टि से 20 प्रतिशत और पंजीयन सीमा बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। इससे स्वीकृत लक्ष्य के अनुरूप शत-प्रतिशत सीमा तक किसान दलहन-तिलहन विक्रय हेतु पंजीयन करा सकेंगे।

error: Content is protected !!