Monday, July 22, 2024
Latest:
सहकारिता

विकसित राजस्थान मिशन 2030 में सहकारिता की महत्वपूर्ण भूमिका के लिए हितधारकों ने दिये अमूल्य सुझाव

दि गंगानगर केंद्रीय सहकारी बैंक लिमिटेड के प्रधान कार्यालय में जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन

श्रीगंगानगर, 5 सितम्बर (मुखपत्र)। सहकारिता विभाग की ओर से विकसित राजस्थान, मिशन 2030 के सम्बंध में विभागीय विजन डॉक्यूमेंट का प्रारूप तैयार करने के लिए हितधारकों के सुझाव आमंत्रित करने हेतु 5 सितम्बर मंगलवार को दि गंगानगर केंद्रीय सहकारी बैंक लिमिटेड के प्रधान कार्यालय में जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सुबह 10 बजे से दोपहर 12.30 बजे तक चले कार्यक्रम में, सहकारी संस्थानओं के निर्वाचित प्रतिनिधियों ने विकसित राजस्थान 2030 में सहकारिता को किस मुकाम पर देखना चाहते हैं, इस पर अपने अमूल्य सुझाव प्रस्तुत किये। सहकारी प्रतिनिधियों द्वारा सहकारी संस्थाओं की आर्थिक उन्नति और कार्यप्रणाली में सुधार के लिए भी सुझाव साझा किये गये। कार्यक्रम में गंगानगर केंद्रीय सहकारी बैंक लिमिटेड के प्रबंध निदेशक संजय गर्ग, सहकारिता विभाग श्रीगंगानगर के उप रजिस्ट्रार मनोज कुमार मान, विशेष लेखा परीक्षक सुश्री प्रिया बजाज और बैंक के अधिशासी अधिकारी भैंरूसिंह पालावत मंचासीन रहे।

कार्यक्रम की शुरूआत में दि गंगानगर केंद्रीय सहकारी बैंक लिमिटेड के प्रबंध निदेशक संजय गर्ग ने उपस्थित सहकारजनों का स्वागत करते हुए विषय वस्तु से अवगत कराया। तीन शॉर्ट वीडियोज के माध्यम से राज्य सरकार की लोक कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गयी तथा पीपीटी के द्वारा सहकारिता विभाग के विभिन्न कार्यक्रमों, योजनाओं से अवगत कराया।

अध्यक्षों ने ऑडिट की गुणवत्ता में सुधार पर दिया जोर

कार्यक्रम की औपचारिक शुरूआत के उपरांत प्रबंध निदेशक श्री गर्ग ने हितधारकों को मौखिक एवं लिखित सुझाव के लिए आमंत्रित किया। कार्यक्रम के दौरान श्रीगंगानगर सहकारी उपभोक्ता होलसेल भंडार लिमिटेड के उपाध्यक्ष शिवदयाल गुप्ता, श्रीकरणपुर क्रय विक्रय सहकारी समिति लि. के अध्यक्ष लखविंद्र सिंह लखियां, सूरतगढ़ क्रय विक्रय सहकारी समिति के अध्यक्ष भानू गोदारा, घड़साना क्रय विक्रय सहकारी समिति लिमिटेड के अध्यक्ष विजेंद्र भांभू, लाधूवाला ग्राम सेवा सहकारी समिति लि. के अध्यक्ष निर्मल सिंह बराड़, प्रगतिशील किसान सादुलशहर के अध्यक्ष शिवप्रकाश सहारण,

घमूड़वाली ग्राम सेवा सहकारी समिति लिमिटेड के अध्यक्ष चंद्रभान गोदारा, 4 एमएल ग्राम सेवा सहकारी समिति लि. के अध्यक्ष कृष्णचंद्र छीम्पा, 13 एसडी ग्राम सेवा सहकारी समिति लि. के अध्यक्ष लक्ष्मणराम मेघवाल, चौधरी चेतरामवाला ग्राम सेवा सहकारी समिति के अध्यक्ष रामकुमार और बैंक के निवर्तमान प्रबंध निदेशक मेघराज बिस्सू आदि ने सहकारिता के माध्यम से अधिक लोगों तक अप्रोच बढाने, सहकारी आंदोलन को और मजबूत बनाने, सहकारी संस्थाओं की ऑडिट एवं निरीक्षण व्यवस्था को सुदृढ़ करने बाबत सुझाव दिये।

विभाग के विजन डॉक्यूमेंट में शामिल किये जायेंगे सुझाव

कार्यक्रम के अंत में, बैंक के प्रबंध निदेशक संजय गर्ग ने गरिमापूर्ण कार्यक्रम में भागीदारी और उपयोगी सुझावों के लिए सभी हितधारकों का आभार व्यक्त किया। उन्होंने बताया कि सुझावों को संकलित कर सहकारिता विभाग को भेजा आयेगा और महत्वपूर्ण सुझावों को सहकारिता विभाग के विजन डॉक्यूमेंट में सम्मिलित किया जायेगा। उल्लेखनीय है कि बैंक के प्रबंध निदेशक संजय गर्ग, सहकारिता विभाग के विजन डॉक्यूमेंट का प्रारूप तैयार करने वाली राज्यस्तरीय कमेटी के सदस्य भी हैं।

जिला स्तरीय कार्यक्रम में श्रीगंगानगर प्राथमिक सहकारी भूमि विकास बैंक लिमिटेड के अध्यक्ष धर्मपाल सहारण, उपाध्यक्ष राजेंद्र मण्डा, पदमपुर क्रय विक्रय सहकारी समिति के अध्यक्ष रामाकृष्ण और विभिन्न ग्राम सेवा सहकारी समितियों के अध्यक्षों सहित करीब 50 हितधारक शामिल हुए।

error: Content is protected !!