Monday, July 22, 2024
Latest:
राज्यसहकारिता

सहकारजन की भागीदारी से बनाया जाएगा विजन डॉक्यूमेन्ट-2030

28 अगस्त से 9 सितम्बर तक संभाग एवं जिला स्तर पर हितधारक परामर्श सम्मेलन होगा

जयपुर, 25 अगस्त (मुखपत्र)। विजन डॉक्यूमेन्ट-2030 के माध्यम से राजस्थान के विकास को गति देने के लिए सहकारजन की भागीदारी भी सुनिश्चित की जाएगी। इसके लिए 28 अगस्त 2023 से 9 सितम्बर, 2023 तक संभाग एवं जिला स्तर पर हितधारक परामर्श सम्मेलन आयोजित किए जाएंगे। यह जानकारी सहकारिता विभाग की प्रमुख शासन सचिव श्रेया गुहा ने शुक्रवार को नेहरू सहकार भवन में विजन डॉक्यूमेन्ट, 2030 के संबंध में विभागीय अधिकारियों एवं शीर्ष संस्थाओं के प्रतिनिधियों की बैठक को संबोधित करते हुए दी। उन्होंने कहा कि सहकारिता के कार्यों में विविधता लाना आवश्यक है ताकि वर्तमान चुनौती के अनुरूप सहकारी संस्थाएं अपने कार्यों को अंजाम दे सकें।

गुहा ने कहा कि संभाग एवं जिला स्तर पर हितधारक सम्मेलन के माध्यम से सहकारजन से राजस्थान में 2030 में सहकारिता के विकास एवं चुनौती के बारे में चर्चा करते हुए सुझाव लिए जाएंगे। सहकारिता के प्रत्येक आयाम को विजन डॉक्यूमेन्ट, 2030 में शामिल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सहकारिता का दायरा बहुत बड़ा है, इसकी अपनी विश्वसनीयता है। सहकारिता का लोगों के सामाजिक एवं आर्थिक विकास में योगदान है। ऐसे में अधिकारी मेहनत के साथ विजन डॉक्यूमेन्ट, 2030 बनाने में व्यापक दृष्टिकोण रखें।

विजन डॉक्यूमेंट्स में हर वर्ग के सुझाव शामिल किये जायें

सहकारिता रजिस्ट्रार मेघराज सिंह रतनू ने कहा कि राजस्थान में हरित क्रांति और श्वेत क्रांति में सहकारी संस्थाओं यथा सीसीबी, पीएलडीबी, पैक्स, दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ एवं प्राथमिक दुग्ध उत्पादक सहकारी समितियों का प्रमुख भूमिका रही है। सहकारी संस्थानों का लोकतांत्रिक मूल्यों एवं सहकारी सिद्धान्तों के अनुरूप संचालन होना आवश्यक है। विजन डॉक्यूमेन्ट, 2030 में इसका विशेष ध्यान रखा जाएगा।
उन्होंने कहा कि विजन डॉक्यूमेन्ट, 2030 बनाते समय सहकारी समितियों के माध्यम से आमजन, किसानों, सामाजिक एवं आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों के उत्थान के लिए सुझावों को शामिल किया जाए। हितधारक परामर्श सम्मेलन के दौरान सहकारिता की योजनाओं एवं उपलब्धियों पर वीडियो का भी प्रसारण किया जाए।


अधिकारियों ने भी दिये सुझाव

बैठक में विभागीय अधिकारियों के साथ नैफेड, कृभको, अपेक्स बैंक, राजफैड, कॉनफैड, तिलम संघ सहित विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने विजन डॉक्यूमेन्ट, 2030 के लिए सुझाव दिए। बैठक में संयुक्त शासन सचिव, मोहम्मद अबू बक्र सहित विभागीय अधिकारी एवं संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थिति थे।

error: Content is protected !!