Monday, July 22, 2024
Latest:
राज्यसहकारिता

दि कोटा सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक ने 6 करोड़ रुपये से अधिक का रिकार्ड वार्षिक लाभ अर्जित किया, संचित हानि से उबरा केसीसीबी

कोटा सीसीबी के नवनिर्मित प्रधान कार्यालय में वार्षिक आमसभा की बैठक का आयोजन

जयपुर, 26 अगस्त (मुखपत्र)। राजस्थान सहकारिता सेवा के सूझवान अधिकारी और नवाचारों के प्रेरणा स्रोत बलविंदर सिंह गिल के कुशल वित्तीय प्रबंधन और बैंक प्रशासक, जिला कलेक्टर ओ.पी. बुनकर के प्रशासकीय मार्गदर्शन की बदौलत दि कोटा सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड, कोटा फिर से लाभ आधारित प्रगति के पथ पर लौट आया है।

आज शनिवार को श्रीनाथपुरम स्थित बैंक के नवनिर्मित प्रधान कार्यालय परिसर में आयोजित बैंक की 97वीं वार्षिक आमसभा की बैठक में जब श्री गिल ने बैंक द्वारा वित्त वर्ष में रिकार्ड लाभ अर्जित करने और संचित हानि से बाहर निकल आने की घोषणा की तो उपस्थित सहकार नेताओं और सहकारजनों ने हर्षित मन से करतल ध्वनि के साथ इस उपलब्धि पर परिसर को गुंजायमान कर दिया। जिला कलेक्टर एवं प्रशासक बैंक ओ. पी. बुनकर की अध्यक्षता में आयोजित आमसभा में बैंक की सदस्य ग्राम सेवा सहकारी समितियों एवं अन्य समितियों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

सर्वप्रथम, बैंक के प्रबंध निदेशक बलविंदर सिंह गिल ने आम सभा के बिंदुवार एजेंडा सदन के सम्मुख प्रस्तुत किया, जिन्हें सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया। श्री गिल ने अवगत कराया कि बैंक द्वारा वित्तीय वर्ष 2022-23 में रिकॉर्ड 6 करोड़ 13 लाख रुपये का शुद्ध लाभ कमाया गया और वर्षों से हानि में चल रहा बैंक इस वर्ष संचित लाभ में रहा है। वित्तीय वर्ष के अंत में बैंक का कुल एनपीए 2 प्रतिशत से भी कम रहा है, जबकि नेट एनपीए शून्य रहा है। बैंक का सीआरएआर 15 प्रतिशत से भी अधिक रहा है।

पेटीएम से करार, क्यूआर कोड सेवा का शुभारम्भ

आम सभा के अध्यक्ष एवं जिला कलेक्टर श्री बुनकर ने बैंक के बेहतर कार्य परिणाम के लिए बैंक की टीम एवं सदस्यों को बधाई दी। कार्यक्रम में चर्चा के दौरान, उपस्थित सदस्यों ने बैंक और सदस्य सहकारी समितियों के विकास और सुदृढ़ीकरण के लिए विभिन्न सुझाव दिए। इसके उपरांत बैंक द्वारा पेटीएम से किये गए करार अनुसार बैंक की क्यूआर कोड सेवा का शुभारम्भ किया गया।

कलेक्टर ने मतदान की शपथ दिलायी

तदुपरांत भारतीय निर्वाचन आयोग द्वारा मतदान को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से चलाये जा रहे अभियान के तहत जिला कलेक्टर ने सभी उपस्थित सदस्यों को मतदान की शपथ दिलाई। सभा का समापन राष्ट्रगान के साथ हुआ। कार्यक्रम में ओम मेहता, सांगोद मार्केटिंग अध्यक्ष, चैन सिंह राठौड़, कोटा डेयरी अध्यक्ष, अनिल सोलंकी, जानकीलाल गोस्वामी सहित 200 से अधिक सहकारी समितियों के अध्यक्ष और प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

ये अधिकारी भी रहे उपस्थित

खेमराज शर्मा, कृषि विभाग, रामप्रसाद शर्मा, नाबार्ड, बीना बैरवा, महाप्रबंधक सहकारी उपभोक्ता भंडार, गोविंद प्रसाद लड्ढा, उप रजिस्ट्रार, नरेन्द्र सिंह बिष्ट, ईओ और राजेश मीणा एडिशनल ईओ, हेमन्त सामरिया, मुख्य प्रबंधक, शशि शेखर वरिष्ठ प्रबंधक बैंक मौजूद रहे। मंच संचालन राजेन्द्र यादव ने किया।

error: Content is protected !!