Monday, July 22, 2024
Latest:
राज्यसहकारिता

बीकानेर सहकारी उपभोक्ता होलसेल भंडार का पूरा संचालक मंडल निर्विरोध निर्वाचित

अध्यक्ष पद पर नगेंद्र पाल सिंह शेखावत की ताजपोशी हुई निश्चित

बीकानेर, 28 फरवरी (मुखपत्र)। बीकानेर सहकारी उपभोक्ता होलसेल भंडार लिमिटेड के चुनाव में आज पूरा संचालक मंडल निर्विरोध निर्वाचित हो गया। अब 4 मार्च 2023 को पदाधिकारियों का चुनाव होगा। इस बीच, विक्रमजीत सिंह राठौड़ ने संचालक मंडल सदस्य के चुनाव के दौरान ही अपना नामांकन पत्र वापिस लेकर नगेंद्रपाल सिंह शेखावत के भंडार अध्यक्ष बनने का मार्ग प्रशस्त कर दिया है।

चुनाव अधिकारी वासुदेव सिंह भाटी, सहायक रजिस्ट्रार ने बताया कि ग्राम सेवा सहकारी समिति वर्ग से संचालक मंडल के लिए तीन सदस्यों के लिए लूनखा सोसाइटी के चैनसिंह भाटी, 860 आरडी सोसाइटी के हेतराम खीचड़ और मोडायत सोसाइटी की शिल्पा खीचड़ निर्वाचित हुई हैं। प्राथमिक भंडार वर्ग से संचालक मंडल के तीन सदस्यों के निर्वाचन के लिए चार नामांकन पत्र दाखिल किये गये। इनमें से कुलदीप सिंह द्वारा नामांकन पत्र वापिस ले लिये जाने के बाद, नगेंद्र पाल सिंह शेखावत, खेमसिंह और सुरेंद्र सिंह राठौड़ को निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया।

व्यक्तिगत सदस्यों में निर्वाचित सदस्य

इसी प्रकार, व्यक्तिगत सदस्यों के वर्ग में सभी 6 संचालक निर्विरोध चुने गये। महिला वर्ग में पांच नामांकन पत्र दाखिल किये गये थे। इनमें इन्द्रा बिश्नोई का नामांकन जांच के दौरान निरस्त हो गया जबकि भुवनेश्वरी शेखावत और नेहा कटारिया ने नाम वापिस ले लिया। इस वर्ग में कुसुम शर्मा व बबीता शर्मा को निर्वाचित घोषित किया गया। अनुसूचित जनजाति वर्ग से धर्मवीर मीणा को तथा अनुसूचित जाति वर्ग से राहुल को निर्वाचित घोषित किया गया। एससी वर्ग में दो नामांकन मिले थे। इनमें से रामचंद्र ने नामांकन पत्र वापिस ले लिया।

विनोद चोबदार भी संचालक मंडल के सदस्य बने

व्यक्तिगत सदस्यों में सामान्य वर्ग के दो संचालकों के चुनाव के लिए सात सदस्यों ने नामांकन दाखिल किये, जिनमें से संजय बिश्नोई का नाम भंडार की मतदाता सूची में नहीं होने के कारण, नामांकन रद्द कर दिया गया। शेष में से चार उम्मीदवारों – विक्रमजीत सिंह राठौड़, साक्षु कटारिया, डॉ. बी.डी. शर्मा और बीकानेर सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक से सेवानिवृत्त शिवसिंह राठौड़ ने नामांकन पत्र वापिस ले लिया। इस वर्ग में सेवानिवृत्त सहकारी अधिकारी विनोद चोबदार और दलीप सेवग को निर्वाचित घोषित किया गया।

विक्रमजीत सिंह राठौड़ के साथ पुष्पमालाओं से लदे हुए नगेंद्रपाल सिंह शेखावत

विक्रमजीत ने जीता दिल, नगेंद्र की ताजपोशी तय

बीकानेर सहकारी भंडार के पदाधिकारियों का निर्वाचन 4 मार्च 2023 को होगा। अध्यक्ष पद के एक प्रबल दावेदार माने जा रहे विक्रमजीत सिंह राठौड़ ने मंगलवार को संचालक पद की दौड़ से अपना नाम वापिस ले लिया। इससे नगेंद्रपाल सिंह शेखावत की अध्यक्ष पद पर ताजपोशी निश्चित हो गयी है। ऐसा प्रतीत होता है कि राठौड़ ने भंडार की अध्यक्षी से अधिक महत्व पुराने एवं प्रगाढ़ पारिवारिक सम्बंधों को देते हुए अपना नाम वापिस लिया है।

उल्लेखनीय है कि विक्रमजीत सिंह राठौड़ के पिता एडवोकेट विजय सिंह राठौड़ और नगेंद्रपाल सिंह शेखावत के पिता करणपाल सिंह शेखावत, दोनों ही दो-दो बार भंडार के अध्यक्ष रहे हैं और मिलकर चुनाव लड़ते रहे हैं। दोनों परिवारों में आत्मीय सम्बंध हैं। कल तक यह चर्चा थी कि शायद अध्यक्षी के लिए दोनों युवा उम्मीदवार आमने-सामने होंगे, लेकिन विक्रमजीत सिंह के बड़ा दिल दिखाते हुए नामांकन पत्र वापिस ले लिये जाने से ऐसा नहीं हुआ।

बीकानेर संभाग का दूसरा भंडार

बीकानेर संभाग में कुल चार सहकारी उपभोक्ता होलसेल भंडार हैं, जिनमें से अब तक दो भंडारों – श्रीगंगानगर एवं बीकानेर के चुनाव सम्पन्न हुए हैं और दोनों ही जगह संचालक मंडल का चुनाव एकतरफा रहा। बीकानेर में जहां पूरा संचालक मंडल निर्विरोध निर्वाचित हुआ, वहीं श्रीगंगानगर में 12 में से 10 निर्विरोध जीते और दो संचालकों ने भारी बहुमत से विजयश्री का वरण किया। श्रीगंगानगर में पदाधिकारियों का चुनाव भी निर्विरोध हुआ। हनुमानगढ़ में भंडार के चुनाव की प्रक्रिया आरम्भ हो चुकी है और वहां भी निर्विरोध निर्वाचन की अधिक संभावना है।

error: Content is protected !!